WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on...

10

Transcript of WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on...

Page 2: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

1. भारत की जीडीपी विकास दर 23.9% है: गवित के पीछे का अर्थशास्त्र क्या है?

Relevant for GS Prelims & Mains Paper III; Economics

हालाांवक, अविकाांश लोगोां को उम्मीद र्ी वक भारत के सकल घरेलू उत्पाद में पर्ाथप्त सांकुचन वदखाई देगा जब साांख्यिकी और कार्थक्रम कार्ाथन्वर्न मांत्रालर् (MoSPI) ने सोमिार को चालू वित्त िर्थ की पहली वतमाही (अपै्रल, मई, जून) के वलए डेटा जारी वकर्ा। व्यापक सहमवत र्ी वक वगरािट 20% से अविक नही ां होगी। जैसा वक र्ह पता चला है, Q1 में जीडीपी 24% प्रवतशत से अनुबांवित है।

दूसरे शब्ोां में, इस साल अपै्रल, मई और जून में भारत में उत्पावदत िसु्तओां और सेिाओां का कुल मूल्य वपछले साल के तीन महीनोां में भारत में उत्पावदत िसु्तओां और सेिाओां के कुल मूल्य से 24% कम है।

जैसा वक चाटथ 2 में बतार्ा गर्ा है, अर्थव्यिस्र्ा में विकास के लगभग सभी प्रमुख सांकेतक हैं - चाहे िह सीमेंट का उत्पादन हो र्ा स्टील की खपत - गहरा सांकुचन वदखा। इस वतमाही में भी कुल टेलीफोन उपभोक्ताओां में सांकुचन देखा गर्ा।

इससे भी बदतर र्ह है वक व्यापक लॉकडाउन के कारि, डेटा गुिित्ता उप-इष्टतम है और अविकाांश पर्थिेक्षकोां को र्ह उम्मीद है वक जब र्ह वनर्त समर् में सांशोवित होता है तो र्ह सांिा और अविक वबगड़ जाएगी।

चाटथ 1: आवर्थक उदारीकरि के बाद से भारत की जीडीपी कहानी। स्रोत: मैवकने्स और एक्सपे्रस ररसचथ गु्रप।

Page 3: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

चाटथ 2: प्रमुख सांकेतकोां में प्रवतशत पररितथन। स्रोत: साांख्यिकी और कार्थक्रम कार्ाथन्वर्न मांत्रालर्

सबसे बड़ा वनवहतार्थ क्या है?

जीडीपी के सबसे अविक पर्थिेक्षकोां की अपेक्षा से अविक के अनुबांि के सार्, अब र्ह माना जाता है वक पूरे िर्थ की जीडीपी भी खराब हो सकती है। एक काफी रूव़ििादी अनुमान पूरे वित्तीर् िर्थ के वलए 7% का सांकुचन होगा।

चाटथ 1 इसे पररपे्रक्ष्य में रखता है। 1990 के दशक की शुरुआत में आवर्थक उदारीकरि के बाद से, भारतीर् अर्थव्यिस्र्ा ने हर साल औसतन 7% जीडीपी िृख्यि देखी है। इस साल, र्ह अनुबांि को 7% तक मोड़ने की सांभािना है।

अर्थव्यिस्र्ा के विवभन्न के्षत्रोां द्वारा जोडे़ गए सकल मूल्य (उत्पादन और आर् के वलए एक प्रॉक्सी) के सांदभथ में, डेटा बताते हैं वक कृवर् को छोड़कर, जहाां जीिीए 3.4% की िृख्यि हुई, अर्थव्यिस्र्ा के अन्य सभी के्षत्रोां में उनकी आर् में वगरािट देखी गई।

सबसे ज्यादा प्रभावित वनमाथि (-50%), व्यापार, होटल और अन्य सेिाएां (-47%), विवनमाथि (-39%), और खनन (-23%) रे्। र्ह ध्यान रखना महत्वपूिथ है वक रे् ऐसे के्षत्र हैं जो देश में अविकतम नई नौकररर्ोां का सृजन करते हैं। ऐसे पररदृश्य में जहाां इन के्षत्रोां में से प्रते्यक इतनी तेजी से अनुबांि कर रहा है - अर्ाथत,

उनका उत्पादन और आर् वगर रही है - र्ह अविक से अविक लोगोां को र्ा तो नौकररर्ोां (रोजगार में वगरािट) र्ा एक को प्राप्त करने में विफल (बेरोजगारी में िृख्यि) को जन्म देगा।

Page 4: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

चाटथ 3; स्रोत: मैवकने्स

क्या जीडीपी सांकुचन का कारि बनता है? सरकार इस पर अांकुश क्योां नही ां लगा पाई है?

वकसी भी अर्थव्यिस्र्ा में, िसु्त और सेिाओां की कुल माांग - जो वक जीडीपी है - विकास के चार इांजनोां में से एक से उत्पन्न होती है।

सबसे बड़ा इांजन आपके जैसे वनजी व्यख्यक्तर्ोां की माांग की खपत है। आइए इसे C कहते हैं, और भारतीर् अर्थव्यिस्र्ा में, इस वतमाही से पहले सभी सकल घरेलू उत्पाद का 56.4% र्ा।

दूसरा सबसे बड़ा इांजन वनजी के्षत्र के व्यिसार्ोां द्वारा उत्पन्न माांग है। आइए इसे I कहते हैं, और इसका भारत के सभी सकल घरेलू उत्पाद का 32% वहस्सा है।

Page 5: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

तीसरा इांजन सरकार द्वारा उत्पावदत िसु्तओां और सेिाओां की माांग है। आइए इसे G कहते हैं, और र्ह भारत के GDP का 11% है।

भारत के वनर्ाथत से आर्ात घटाने के बाद अांवतम इांजन जीडीपी पर शुि माांग है। चलो इसे NX कहते हैं। भारत के मामले में, र्ह सबसे छोटा इांजन है और चूांवक भारत आम तौर पर इसके वनर्ाथत से अविक आर्ात करता है, इसवलए इसका प्रभाि जीडीपी पर नकारात्मक है।

तो कुल जीडीपी = C + I + G + NX

अब चाटथ 4 को देखें। र्ह वदखाता है वक Q1 में प्रते्यक इांजन के सार् क्या हुआ है।

चाटथ 4: विकास के इांजन लड़खड़ाते हैं। स्रोत: MoSPI और एक्सपे्रस ररसचथ गु्रप

वनजी खपत - भारतीर् अर्थव्यिस्र्ा को चलाने िाले सबसे बडे़ इांजन में 27% की वगरािट आई है। िन के वलहाज से र्ह वगरािट वपछले साल की समान वतमाही की तुलना में 5,31,803 करोड़ रुपरे् है।

दूसरा सबसे बड़ा इांजन - व्यिसार्ोां द्वारा वनिेश - और भी कविन हो गर्ा है - र्ह वपछले साल की इसी वतमाही का आिा है। िन के सांदभथ में, सांकुचन 5,33,003 करोड़ रुपरे् है।

इसवलए दो सबसे बडे़ इांजन, जो वक कुल जीडीपी के 88% से अविक के वलए वजमे्मदार रे्, Q1 ने बडे़ पैमाने पर सांकुचन देखा।

Page 6: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

NX र्ा शुि वनर्ाथत माांग इस Q1 में सकारात्मक हो गई है क्योांवक भारत का आर्ात इसके वनर्ाथत से अविक दुघथटनाग्रस्त हो गर्ा है। कागज पर, र्ह समग्र जीडीपी को ब़िािा देता है, र्ह एक ऐसी अर्थव्यिस्र्ा की ओर भी इशारा करता है, जहाां आवर्थक गवतविविर्ोां में वगरािट आई है।

र्ह हमें विकास के अांवतम इांजन तक ले जाता है - सरकार। जैसा वक डेटा वदखाता है, सरकार का खचथ 16% ब़ि गर्ा र्ा, लेवकन अर्थव्यिस्र्ा के अन्य के्षत्रोां (इांजन) में माांग (शख्यक्त) के नुकसान की भरपाई के वलए र्ह कही ां नही ां र्ा।

वनरपेक्ष सांिाओां को देखने से स्पष्ट वचत्र वमलता है। जब C और I की माांग 10,64,803 करोड़ रुपरे् घट गई, तो सरकार का खचथ वसफथ 68,387 करोड़ रुपरे् ब़ि गर्ा। दूसरे शब्ोां में, सरकार का खचथ ब़ि गर्ा लेवकन र्ह इतना कम र्ा वक र्ह लोगोां और व्यिसार्ोां द्वारा अनुभि की जा रही माांग में कुल वगरािट का वसफथ 6% किर कर सका।

शुि पररिाम र्ह है वक कागज पर, जीडीपी में सरकारी व्यर् का वहस्सा 11% से 18% हो गर्ा है, वफर भी िास्तविकता र्ह है वक कुल जीडीपी में 24% की वगरािट आई है। र्ह पूिथ सकल घरेलू उत्पाद का वनचला स्तर है जो सरकार को विकास के एक बडे़ इांजन की तरह वदख रहा है।

रास्ता क्या है?

जब आर् में तेजी से वगरािट आती है, तो वनजी व्यख्यक्त खपत में कटौती करते हैं। जब वनजी खपत तेजी से वगरती है, तो व्यिसार् वनिेश करना बांद कर देते हैं। चूांवक रे् दोनोां सै्वख्यिक वनिथर् हैं , इसवलए लोगोां को ितथमान पररदृश्य में अविक वनिेश करने के वलए और / र्ा मोटे व्यिसार्ोां को खचथ करने के वलए मजबूर करने का कोई तरीका नही ां है।

र्ही तकथ वनर्ाथत और आर्ात के वलए भी है।

पररख्यस्र्वतर्ोां में, केिल एक इांजन है जो जीडीपी को ब़िािा दे सकता है और िह है सरकार (G)।

केिल सरकार जब अविक खचथ करती है - र्ा तो सड़कोां और पुलोां का वनमाथि करके और िेतन का भुगतान करके र्ा सीिे पैसा सौांपकर - क्या अर्थव्यिस्र्ा अल्पािवि में मध्यम अिवि में पुनजीवित हो सकती है। र्वद सरकार पर्ाथप्त रूप से पर्ाथप्त खचथ नही ां करती है तो अर्थव्यिस्र्ा को िीक होने में लांबा समर् लगेगा।

ज्यादा खचथ करने से सरकार की क्या पकड़ है?

कोविद सांकट से पहले ही, सरकारी वित्त को खत्म कर वदर्ा गर्ा र्ा। दूसरे शब्ोां में, र्ह न केिल उिार र्ा, बख्यि इसके पास से अविक उिार लेना र्ा। पररिामस्वरूप, आज उसके पास उतना पैसा नही ां है।

Page 7: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

सांसािनोां को उत्पन्न करने के वलए कुछ निीन समािानोां के बारे में सोचना होगा। मैवकने्स ग्लोबल इांस्टीटू्यट द्वारा चाटथ 4 में ऐसे तरीके प्रदान वकए गए हैं, वजन पर जीडीपी का अवतररक्त 3.5 प्रवतशत सरकार द्वारा उिार्ा जा सकता है।

Source: The Indian Express

2. 15 वसतांबर तक 1 रुपरे् का जुमाथना र्ा 3 महीने के वलए सािारि कारािास का सामना करना पडे़गा: प्रशाांत भूर्ि को सुप्रीम कोटथ ने कहा

Relevant for GS Prelims & Mains Paper II; Polity & Governance

सुप्रीम कोटथ ने सोमिार को नागररक अविकारोां के िकील प्रशाांत भूर्ि को "अदालत में घोटाले" करके आपराविक अिमानना करने के वलए ”नाममात्र" जुमाथना के सार् दां वडत वकर्ा।

न्यार्मूवतथ अरुि वमश्रा की अगुिाई िाली तीन-न्यार्ािीश पीि ने आदेश वदर्ा, "वकसी भी गांभीर सजा को लागू करने के बजार्, हम गांभीर रूप से 1 रुपरे् (एक रुपरे्) के मामूली जुमाथना के सार् विचारक को भेज रहे हैं।"

अदालत ने कहा वक "उवचत िाक्य" और केिल चेतािनी की आिश्यकता नही ां र्ी क्योांवक श्री भूर्ि ने खेद व्यक्त नही ां करने के वलए "अनुवचत आग्रह" वदखार्ा र्ा। उन्ोांने उस सांस्र्ा को नुकसान पहुांचाने के वलए कोई पश्चाताप नही ां वदखार्ा, जो िह सांबांवित है।

अदालत ने उसे 15 वसतांबर तक जुमाथना अदा करने का आदेश वदर्ा, वजसमें विफल होने पर, उसे तीन महीने का सािारि कारािास और शीर्थ अदालत में तीन साल के वलए पै्रख्यिस करने पर प्रवतबांि लगा वदर्ा गर्ा।

श्री भूर्ि ने बाद में वदन में एक पे्रस बर्ान जारी वकर्ा वक िह समीक्षा करने का अपना अविकार सुरवक्षत रखते हैं लेवकन उच्च सम्मान में रहने िाले सांस्र्ान को जुमाथना अदा करें गे।

अदालत ने कहा वक र्ह शीर्थ िकील के वनकार्, बार काउां वसल ऑफ इांवडर्ा के ऊपर र्ा, जो अिमानना के दोर्ी एक िकील के "नामाांकन को वनलांवबत करने" के वलए है, जो वक "अगर र्ह इिा है"।

अदालत ने कहा वक िकील का आचरि "अपमान और अहांकार" से दूर है, वजसका न्यार् वितरि प्रिाली में कोई स्र्ान नही ां है और र्ह एक महत्वपूिथ पेशा है।

श्री भूर्ि को दोर्ी क्योां िहरार्ा गर्ा?

Page 8: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

श्री भूर्ि को 14 अगस्त को एक उच्च न्यार्ालर् के मुि न्यार्ािीश की तस्वीर के उनके आत्मघाती अिमानना की कारथिाई के वलए दोर्ी िहरार्ा गर्ा र्ा, जो हाई-एां ड बाइक पर रे्, जबवक अदालत लॉकडाउन में र्ी और वपछले छह िर्ों में अदालत के कामकाज के बारे में एक और र्ी।

उन्ोांने अपने बचाि में 100 से अविक पन्नोां का जिाब दाख्यखल करते हुए, "अत्याचार में एक प्रमुख कार्थकारी अविकारी के सामने आत्मसमपथि" करने की अदालत की आलोचना की। िह "अर्ोध्या के फैसले के बारे में वटप्पिी के सार्-सार् पूरे न्यार् वितरि प्रिाली और बड़ी सांिा में न्यार्ािीशोां" पर आकाांक्षा रखते रे्।

जब माफी माांगने के वलए कहा गर्ा, तो उन्ोांने दो बर्ान जारी वकए, वजनमें से एक में उन्ोांने कहा वक उन्ोांने न तो अदालत की भव्यता र्ा दर्ा के वलए कहा, बख्यि वकसी भी सजा के वलए "प्रसन्नतापूिथक" प्रसु्तत करें गे।

Source: The Hindu

3. पूिथ राष्टर पवत प्रिब मुखजी का वनिन

Relevant for GS Prelims

पूिथ राष्टर पवत प्रिब मुखजी का सोमिार दोपहर को वनिन हो गर्ा, जब उन्ोांने सेना के अनुसांिान और रेफरल अस्पताल में फेफड़ोां के सांक्रमि का विकास वकर्ा, जहाां उन्ें मख्यस्तष्क की सजथरी के वलए भती करार्ा गर्ा र्ा। आज सुबह ही मेवडकल बुलेवटन में अस्पताल ने कहा है वक श्री मुखजी फेफड़ोां में सांक्रमि के कारि सेविक सदमे में चले गए रे्। उन्ोांने COVID-19 के वलए भी सकारात्मक परीक्षि वकर्ा र्ा।

उपलख्यिर्ाां प्रिब कुमार मुखजी (11 वदसांबर 1935 - 31 अगस्त 2020) एक भारतीर् राजनीवतज्ञ रे् वजन्ोांने 2012 से 2017 तक भारत के 13 िें राष्टर पवत के रूप में कार्थ वकर्ा।

पाांच दशकोां के राजनीवतक जीिन में, मुखजी भारतीर् राष्टर ीर् काांगे्रस में एक िररष्ठ नेता रे् और उन्ोांने भारत सरकार में कई मांवत्रस्तरीर् विभागोां पर कब्जा वकर्ा। राष्टर पवत के रूप में चुनाि से पहले, मुखजी 2009 से 2012 तक कें द्रीर् वित्त मांत्री रे्। उन्ें भारत के सिोच्च नागररक सम्मान, 2019 में भारत के राष्टर पवत राम नार् कोविांद द्वारा भारत रत्न से सम्मावनत वकर्ा गर्ा र्ा।

मुखजी को राजनीवत में 1969 में तब बे्रक वमला जब तत्कालीन प्रिानमांत्री इां वदरा गाांिी ने उन्ें काांगे्रस के वटकट पर भारत की सांसद के ऊपरी सदन राज्यसभा के वलए चुने जाने में मदद की। एक उिा िृख्यि के बाद, िह 1973 में गाांिी के सबसे भरोसेमांद लेख्यिनेंट और उनके मांवत्रमांडल में एक मांत्री बन गए। मुखजी

Page 9: WhatsApp No. 88986-30000€¦ · 1 ø - 1a w < 9.ø L 8õ ð n 8 / ý Jd 2 a For updates on WhatsApp, share your Name, C ity & Email ID on WhatsApp No. 88986-30000

For updates on WhatsApp, share your Name, City & Email ID on

WhatsApp No. 88986-30000

Website: www.prepmate.in Telegram Channel: @upscprepmate

Prepmate Cengage Books Preview:https://prepmate.in/books/ Youtube channel: PrepMateEdutech

की कई मांत्रालर्ोां में सेिा की क्षमता 1982-84 में भारत के वित्त मांत्री के रूप में उनके पहले कार्थकाल में समाप्त हुई। िह 1980 से 1985 तक राज्यसभा में सदन के नेता भी रहे।

मुखजी को राजीि गाांिी के प्रीवमर्र के दौरान काांगे्रस से अलग कर वदर्ा गर्ा र्ा। 1984 में उनकी हत्या के बाद इां वदरा के उत्तराविकारी के रूप में मुखजी ने खुद को देखा र्ा और अनुभिहीन राजीि को नही ां। मुखजी आगामी सत्ता सांघर्थ में हार गए। उन्ोांने अपनी पाटी राष्टर ीर् समाजिादी काांगे्रस बनाई, वजसका 1989 में राजीि गाांिी के सार् आम सहमवत बनने के बाद काांगे्रस में विलर् हो गर्ा। 1991 में राजीि गाांिी की हत्या के बाद, मुखजी के राजनीवतक कैररर्र में सुिार हुआ जब प्रिानमांत्री पी िी नरवसम्हा राि ने उन्ें 1991 में र्ोजना आर्ोग प्रमुख और 1995 में विदेश मांत्री वनरु्क्त वकर्ा। इसके बाद, काांगे्रस के बडे़ राजनेता के रूप में, मुखजी 1998 में सोवनर्ा गाांिी की पाटी के अध्यक्ष पद के वलए प्रमुख और िासु्तकार रे्।

2004 में जब काांगे्रस के नेतृत्व िाला सांरु्क्त प्रगवतशील गिबांिन (रू्पीए) सत्ता में आर्ा, तो मुखजी ने पहली बार लोकसभा (सांसद का लोकवप्रर् वनिाथवचत वनचला सदन) सीट जीती। तब से 2012 तक अपने इस्तीफे तक, मुखजी ने प्रिान मांत्री मनमोहन वसांह की सरकार में कई प्रमुख कैवबनेट विभागोां की रक्षा की - रक्षा (2004–06), विदेश मांत्रालर् (2006-09) और वित्त (2009-12) - कई मांवत्रर्ोां के समूह (GoMs) के प्रमुख और लोकसभा में सदन के नेता होने के अलािा। जुलाई 2012 में देश के राष्टर पवत पद के वलए सांप्रग के नामाांकन को हावसल करने के बाद, मुखजी ने राष्टर पवत भिन की दौड़ में पी। सांगमा को आराम से हरार्ा, 70% वनिाथचक मांडल के िोट जीते।

2017 में, मुखजी ने "बु़िापे से सांबांवित स्वास्थ्य जवटलताओां" के कारि राष्टर पवत पद छोड़ने के बाद पुन: चुनाि के वलए नही ां चलने और राजनीवत से सांन्यास लेने का फैसला वकर्ा। 25 जुलाई 2017 को उनका कार्थकाल समाप्त हो गर्ा। उन्ें राम नार् कोविांद द्वारा राष्टर पवत के रूप में उत्तराविकारी बनार्ा गर्ा। जून 2018 में मुखजी राष्टर ीर् स्वर्ांसेिक सांघ (आरएसएस) कार्थक्रम को सांबोवित करने िाले भारत के पहले राष्टर पवत बने।